PM मोदी और कांग्रेस के पूर्व प्रधानमंत्रियों के भाषण की तुलना की; नेहरू-इंदिरा पर आरोप लगाए | BJP Desh Ki Badli Soch; Narendra Modi Manmohan Singh Indira Gandhi Speech Comparison

  • Hindi News
  • National
  • BJP Desh Ki Badli Soch; Narendra Modi Manmohan Singh Indira Gandhi Speech Comparison

नई दिल्ली10 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

BJP ने कांग्रेस के खिलाफ नए सोशल मीडिया कैंपेन की शुरुआत की है। मंगलवार को लॉन्च किए गए इस कैंपेन को ‘देश की बदली सोच’ नाम दिया गया है। इसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के स्वतंत्रता दिवस के भाषणों की तुलना देश के कांग्रेसी प्रधानमंत्रियों से की गई है।

इसके लिए BJP ने अपने ट्विटर हैंडल पर PM मोदी और पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, राजीव गांधी, इंदिरा गांधी और जवाहरलाल नेहरू के भाषणों वाले कई ग्राफिक्स शेयर किए हैं। पूर्व प्रधानमंत्रियों पर ढेरों आरोप भी लगाए गए।

नेहरू पर शहीद सैनिकों को श्रद्धांजलि न देने का आरोप
ऐसे ही एक ट्वीट में BJP ने आरोप लगाया गया है कि नेहरू ने 1963 के स्वतंत्रता दिवस के भाषण में 1962 के युद्ध में शहीद हुए सैनिकों को श्रद्धांजलि नहीं दी थी। वहीं मोदी ने 2020 के संबोधन में उन सैनिकों को याद किया, जिन्होंने लद्दाख में चीनी सेना के साथ संघर्ष में बलिदान दिया था।

मनमोहन सिंह पर एक परिवार को खुश करने का आरोप
2008 और 2009 में मनमोहन सिंह के भाषणों का हवाला देते हुए एक परिवार को खुश करने का आरोप लगाया है। वहीं PM मोदी के 2014 के भाषण से की गई, जिसमें उन्होंने कहा था कि देश सभी प्रधानमंत्रियों के योगदान की वजह से यहां पहुंचा है।

इंदिरा गांधी ने आपातकाल को सही ठहराया
एक अन्य ट्वीट में BJP ने कहा कि 1975 में आपातकाल लगाने के फैसले को इंदिरा गांधी ने उचित ठहराया था। जबकि मोदी ने 2017 के भाषण में लोकतंत्र को भारत की सबसे बड़ी ताकत बताया। BJP अपने सोशल मीडिया कैंपेन में कांग्रेस की बड़ी हस्तियों को निशाना बनाती रही है।

सोनिया सरकार को आत्म-मुग्ध’ कहा था

सोनिया ने BJP के प्रयासों का विरोध करने की बात कही है।

सोनिया ने BJP के प्रयासों का विरोध करने की बात कही है।

इससे पहले कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने सोमवार को आरोप लगाया कि एक ‘आत्म-मुग्ध’ सरकार स्वतंत्रता सेनानियों और पार्टी के बलिदानों की अहमियत कम करने पर तुली हुई है। सोनिया ने कहा- हम राजनीतिक लाभ के लिए किए गए इस तरह के प्रयासों का कड़ा विरोध करेंगे।

सोनिया ने ये बातें भाजपा के एक वीडियो जारी करने के एक दिन बाद कही थी। इस वीडियो में BJP ने पार्टिशन की वजहों का अपने हिसाब से वर्णन किया गया था। वीडियो में उस समय की कांग्रेस लीडरशिप को दोषी ठहराया था और तस्वीरें दिखाई थीं। वहीं, जवाहरलाल नेहरू और मोहम्मद अली जिन्ना की तस्वीरें दिखाई गई।

खबरें और भी हैं…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *