राजस्थान-MP में रुक-रुककर बारिश; बिहार के 100 से ज्यादा गांवों में बाढ़, असम में हालात बिगड़े | Intermittent rain in Rajasthan-MP; Flood in more than 100 villages of Bihar, situation worsens in Assam

  • Hindi News
  • National
  • Intermittent Rain In Rajasthan MP; Flood In More Than 100 Villages Of Bihar, Situation Worsens In Assam

नई दिल्ली6 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

देशभर में मानसून की धमाकेदार एंट्री हो गई है। महाराष्ट्र, राजस्थान और मध्यप्रदेश में भी रुक-रुककर बारिश हो रही है। बिहार में बारिश के बाद कई नदियां उफान पर हैं। राज्य में बाढ़ के हालात पैदा हो गए हैं। राज्य में बाढ़ से 100 से ज्यादा गांव प्रभावित हैं।

वहीं, गुजरात के कुछ हिस्सों में भारी बारिश जारी है। राज्य के आणंद जिले में बाढ़ से 2 लोगों की मौत हो गई, वहीं 70 पशुओं जान चली गई है। असम में भी बाढ़ की वजह से अब तक 22 लाख से ज्यादा लोग प्रभावित हुए हैं। राज्य के 27 जिलों के 1934 गांव अभी भी बाढ़ की चपेट में हैं। बाढ़ और लैंडस्लाइड से मरने वालों की कुल संख्या 174 हो गई है।

समय से पहले पहुंचा मानसून
मौसम विभाग ने अनुमान लगाया था कि 6 जुलाई तक पूरे देश में मानसून पहुंचेगा, लेकिन समय से पहले ही मानसून पहुंच चुका है। जून में देशभर में सामान्य से 8% कम बारिश दर्ज की गई है। मौसम विभाग का कहना है कि यह बहुत बड़ी कमी नहीं है, इतनी बारिश सामान्य श्रेणी की ही मानी जाएगी।

MP में 4 जुलाई के बाद हो सकती है मूसलाधार बारिश

खंडवा में रविवार को भाजपा प्रदेशाध्यक्ष वीडी शर्मा का रोड शो बरसते पानी के बीच हुआ।

खंडवा में रविवार को भाजपा प्रदेशाध्यक्ष वीडी शर्मा का रोड शो बरसते पानी के बीच हुआ।

एमपी में बीते 4 दिन से लगातार बारिश हो रही है। राजधानी भोपाल में रविवार दोपहर तेज बारिश हुई। छिंदवाड़ा, दमोह, जबलपुर, खजुराहो, मंडला, रीवा, सागर, सतना, उमरिया, धार, इंदौर, खरगोन और उज्जैन में भी रुक-रुक कर बारिश का दौर जारी है। खंडवा में भाजपा प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा ने बारिश के बीच निकाय चुनाव प्रचार के लिए रोड शो किया है।

मौसम विभाग के अनुसार रविवार और सोमवार को भी इसी तरह मौसम बना रहेगा। सोमवार शाम से बंगाल की खाड़ी में मौसम में बदलाव हो सकता है। इससे 4 जुलाई की शाम से एक बार फिर मौसम बदलेगा। कई इलाकों में मूसलाधार बारिश हो सकती है। इंदौर-भोपाल में भी भारी बारिश होगी। पूरी खबर यहां पढ़ें…

दिल्ली में कई जगह हुआ जलभराव

दिल्ली के कई इलाकों में जलभराव से ट्रैफिक जाम हो गया।

दिल्ली के कई इलाकों में जलभराव से ट्रैफिक जाम हो गया।

दिल्ली-NCR के कई इलाकों में रविवार दोपहर झमाझम बारिश हुई है। कई जगहों पर सड़कों पर अधिक जलभराव होने से ट्रैफिक जाम भी लग गया। मौसम विभाग ने शनिवार को ही राज्य में अगले 3 दिन बारिश होने का अनुमान लगाया था। इसके साथ ही विभाग ने आज 6 से 7 डिग्री सेल्सियस तक तापमान में गिरावट दर्ज करने की बात कही है। इससे पहले 30 जून को दिन भर झमाझम बारिश हुई थी और फिर उमस पड़ने लगी थी।

राजस्थान के 10 जिलों में तेज बारिश

यह फोटो झालावाड़ का है। यहां प्रदेश में सबसे ज्यादा औसत बारिश का रिकॉर्ड है।

यह फोटो झालावाड़ का है। यहां प्रदेश में सबसे ज्यादा औसत बारिश का रिकॉर्ड है।

राजस्थान में बारिश का दौर शुरू हो चुका है। इस बार मानसून ने अलवर-भरतपुर के साथ झालावाड़ से एंट्री की है। प्रदेश में मानसून ने भले ही 8 दिन देरी से एंट्री की हो, लेकिन 3 दिन में ही इसने पूरे राजस्थान को कवर कर लिया है। सामान्य तौर पर 2 हफ्ते में पूरा राजस्थान कवर होता है। बीते 24 घंटे में अजमेर, भीलवाड़ा, उदयपुर और जयपुर समेत 10 जिलों में तेज बारिश हुई। पढ़ें पूरी खबर…

पंजाब में भी कई जगह हुआ जलभराव
पंजाब में भी मानसून की एंट्री हो गई है। राज्य के कई जिलाें में रविवार काे बारिश हुई है। होशियारपुर और जालंधर में बारिश से कई जगहों पर जलभराव देखने को मिला है। आने वाले कुछ दिनाें में माैसम

बिहार के कई जिलों में अलर्ट जारी

बिहार की राजधानी पटना में बारिश के बाद सड़कें तालाब जैसी नजर आईं।

बिहार की राजधानी पटना में बारिश के बाद सड़कें तालाब जैसी नजर आईं।

बिहार के 19 जिलों में बारिश और आकाशीय बिजली का अलर्ट है। पिछले 5 दिनों में आकाशीय बिजली से 31 लोगों की मौत हो चुकी है। राज्य के कैमूर जिले में भारी बारिश से ट्रामा सेंटर डूब गया। इमरजेंसी वार्ड में भी पानी भर गया।

अगले 48 घंटे में सीतामढ़ी, अररिया, किशनगंज, पश्चिमी चंपारण के अलावा राज्य के पश्चिमी हिस्सों में एक-दाे स्थानों पर भारी बारिश के साथ आकाशीय बिजली को लेकर यलो अलर्ट जारी किया गया है। वहीं बक्सर, भोजपुर, रोहतास, भभुआ, औरंगाबाद, अरवल, पटना, गया, नालंदा, शेखपुरा, नवादा, बेगूसराय, लखीसराय, जहानाबाद, भागलपुर, बांका, जमुई, मुंगेर, खगड़िया बारिश की संभावना है। पढ़ें पूरी खबर…

UP में सितंबर तक 864 मिमी. हो सकती है बारिश
UP में मानसून पूरी तरह एक्टिव हो गया है। लगातार जिलों में बारिशों का दौर जारी है। वहीं जुलाई में मानसून की सबसे अधिक बारिश के आसार बने हुए हैं। पूरे मानसून में सितंबर महीने तक करीब 864 मिमी. बारिश हो सकती हे। इसमें सिर्फ जुलाई में ही करीब 450 मिमी. तक बारिश दर्ज की जाएगी। सितंबर में बारिश सामान्य से कम होने की संभावना है। पूरी खबर यहां पढ़ें…

असम में बाढ़ से 22 लाख लोगों पर आफत

असम में हालात इस कदर बिगड़ चुके हैं कि जरूरी चीजों के लिए भी नाव पर बैठकर निकलना पड़ रहा है।

असम में हालात इस कदर बिगड़ चुके हैं कि जरूरी चीजों के लिए भी नाव पर बैठकर निकलना पड़ रहा है।

असम के 34 में से 27 जिलों के कम से कम 1,934 गांव अभी भी बाढ़ की चपेट में हैं। अप्रैल से लेकर अब तक बाढ़ और लैंडस्लाइड से मरने वालों की कुल संख्या 174 हो गई है। कुछ नदियों में जलस्तर घटने से हालात में सुधार हुआ है, लेकिन ब्रह्मपुत्र, कोपिली, दिसांग और बुरहीडीहिंग जैसी नदियां अभी भी कई जगहों पर खतरे के निशान से ऊपर बह रही हैं।

खबरें और भी हैं…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *